डे-नाइट टेस्ट में होगी रिकॉर्ड्स की बारिश:भारत के पास घरेलू मैदानों पर लगातार 15वीं सीरीज जीतने का मौका, रोहित खेलेंगे 400वां इंटरनेशनल मैच

Rohit Sharma's 400th ODI
Rohit Sharma's 400th ODI

बेंगलुरु में भारत और श्रीलंका के बीच शनिवार से दो टेस्ट मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मुकाबला खेला जाएगा। ये मैच डे-नाइट टेस्ट होगा और पिंक बॉल से खेला जाएगा। मोहाली टेस्ट में मिली एकतरफा जीत के बाद दूसरे मैच के लिए भी टीम इंडिया को जीत का फेवरेट माना जा रहा है।

आइए आपको बताते हैं कि इस मैच में कौन-कौन से बड़े रिकॉर्ड बन सकते हैं।

लगातार 15वीं सीरीज जीतने का मौका
टीम इंडिया अगर श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रही, तो घरेलू मैदानों पर लगातार 15वीं सीरीज जीतेगी। भारत ने पिछली घरेलू टेस्ट सीरीज नवंबर 2012 में इंग्लैंड के खिलाफ हारी थी। उस समय महेंद्र सिंह धोनी टीम के कैप्टन थे। उसके बाद से अब तक भारतीय टीम कोई घरेलू टेस्ट सीरीज नहीं गंवाई है। आज तक किसी भी टीम ने अपने घरेलू मैदानों पर इतनी सीरीज नहीं जीती है।

टीम इंडिया के बाद दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया का नाम आता है। कंगारू टीम ने अब तक घर में लगातार 10 टेस्ट सीरीज जीती हैं। टीम ने ये कारनामा दो बार किया। ऑस्ट्रेलिया ने पहली सीरीज नवंबर1994 से नवंबर 2000 तक जीती, जबकि दूसरी बार ये कारनामा जुलाई 2004 से नवंबर 2008 के बीच किया था।

रोहित का 400वां मैच
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा का ये 400वां इंटरनेशनल मैच होगा। टीम इंडिया के लिए तीनों फॉर्मेट में मिलाकर 400 मैच खेलने वाले रोहित 8वें खिलाड़ी होंगे। रोहित शर्मा ने अभी तक 230 वनडे, 125 टी-20 और 44 टेस्ट मैच खेले हैं।

हिटमैन से पहले सचिन तेंदुलकर (664), महेंद्र सिंह धोनी (535), राहुल द्रविड़ (505), विराट कोहली (457), मोहम्मद अजहरुद्दीन (433), सौरव गांगुली (421) और अनिल कुंबले (401) 400 से अधिक इंटरनेशनल मैच खेल चुके हैं।

स्टेन से आगे निकलेंगे अश्विन
मोहाली में 6 विकट लेकर रिचर्ड हैडली (431) और कपिल देव (434) का रिकॉर्ड तोड़ने वाले आर अश्विन दूसरे मैच में अगर चार विकेट ले लेते हैं तो टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दुनिया के 8वें गेंदबाज बन जाएंगे। चार विकेट लेते ही अश्विन साउथ अफ्रीका के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन (439) का रिकॉर्ड तोड़ देंगे। अश्विन ने अभी तक 85 मैचों में 436 विकेट ले चुके हैं।

कोहली को शतक का इंतजार
इंटरनेशनल क्रिकेट में विराट कोहली ने 70 शतक लगाए हैं। बेंगलुरु में अगर कोहली शतक लगाने में कामयाब रहे तो तीनों फॉर्मेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में संयुक्त रूप से रिकी पोंटिंग (71) की बराबरी कर लेंगे। अगर दोनों पारियों में विराट ने शतक लगा दिया तो वह पोंटिंग को भी पीछे छोड़ देंगे। बता दें कि शतकों के मामले में सबसे आगे सचिन तेंदुलकर (100) का नाम आता है।

बुमराह होंगे 300 विकट के क्लब में शामिल
दूसरे मैच में अगर जसप्रीत बुमराह 5 विकेट लेने में सफल रहे तो इंटरनेशनल क्रिकेट में उनके 300 विकेट पूरे हो जाएंगे। उन्होंने अभी तक 155 मैचों में 285 विकेट चटकाए हैं। भारत के लिए तीनों फॉर्मेट में 300 विकेट लेने वाले जसप्रीत 12वें खिलाड़ी होंगे। उनसे पहले अनिल कुंबले (956), हरभजन सिंह (707), कपिल देव (687), आर अश्विन (648), जहीर खान (597), जवागल श्रीनाथ (551), रवींद्र जडेजा (477), इशांत शर्मा (434), मोहम्मद शमी (378), अजित अगरकर (349) और इरफान पठान 301 इंटरनेशनल विकेट ले चुके हैं।