भारतीय महिलाओं के सामने वेस्टइंडीज की चुनौती:वर्ल्ड कप में आज तक विंडीज से नहीं हारी टीम इंडिया, जाने दोनों टीमों की पॉसिबल प्लेइंग-XI

Who will win India or West Indies
Who will win India or West Indies

महिला वर्ल्ड कप में भारतीय टीम शनिवार को टूर्नामेंट में अपना तीसरा मुकाबला वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलेगी। पहले मैच में पाकिस्तान को एकतरफा मुकाबले में हराने के बाद दूसरे मैच में भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ बड़ी हार का सामना करना पड़ा था। ऐसे में विंडीज के खिलाफ होने वाला मुकाबला टीम के लिए बहुत अहम होने वाला है।

दोनों के बीच महिला वर्ल्ड कप 2022 का मुकाबला भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े छह बजे शुरू होगा। टॉस सुबह छह बजे होगा। इस मुकाबले को स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क के चैनल्स पर अलग-अलग भाषाओं में देख सकते हैं।

वर्ल्ड कप में भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 6 मुकाबले खेले हैं और सभी मुकाबलों में टीम को जीत मिली है। टीम इंडिया को अगर वर्ल्ड कप में बने रहना है तो ये मुकाबला हर हाल में जीतना होगा।

 

भारतीय टीम के बल्लेबाजों को करना होगा अच्छा प्रदर्शन

भारतीय टीम अभी तक एक भी वर्ल्ड कप अपने नाम नहीं कर पाई है। इस बार टीम इंडिया को वर्ल्ड कप जीतने का फेवरेट माना जा रहा है। ऐसे में टीम को आगे के मुकाबलों में कड़ी मेहनत करनी होगी। खासकर टीम के बल्लेबाजों का प्रदर्शन अभी तक कुछ खास नहीं रहा है। कप्तान मिताली राज ने पाकिस्तान के खिलाफ 40 गेंद में सिर्फ 9 रन बना पाईं थी। वहीं, न्यूजीलैंड के खिलाफ उनके बल्ले से 56 गेंदों में सिर्फ 36 रन निकले। शेफाली वर्मा को पिछले मैच में खराब फॉर्म की वजह से ही बाहर कर दिया गया।

वहीं, स्मृति मंधाना के बल्ले से न्यूजीलैंड के खिलाफ सिर्फ 6 रन निकले। भारतीय टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ जीतना है तो बल्लेबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा।

वेस्टइंडीज ने वर्ल्ड कप में किया है अब तक कमाल का प्रदर्शन

वेस्टइंडीज ने तो इस बार वर्ल्ड कप में कमाल का प्रदर्शन किया है और अपने दोनों मुकाबलों में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड जैसी मजबूत टीमों को हरा चुकी है। ऐसे में टीम इंडिया को वेस्टइंडीज के खिलाफ अच्छा खेल दिखाना होगा।

मजबूत वेस्टइंडीज के खिलाफ मुकाबले में टीम इंडिया प्लेइंग इलेवन में बदलाव भी कर सकती है। मैच में पूनम यादव को मौका मिल सकता है। राजेश्वरी गायकवाड और झूलन गोस्वामी ने दोनों मुकाबले में अच्छा प्रदर्शन किया है। ऐसे में टीम की गेंदबाजी और मजबूत होगी।

 

भारत के लिए आगे की राह आसान नहीं

टीम इंडिया के लिए मुसीबत की बात ये है कि उन्हें वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका जैसी टीमों के खिलाफ खेलना है। ये मुकाबले टीम इंडिया को जीतने होंगे क्योंकि अब एक या दो हार उसे सेमीफाइनल की राह से भी बाहर कर देगा।